Best and cheap home remedies for stomach pain in hindi sagarvansi ayurveda

पेट दर्द के लिए सबसे अच्छा व सस्ता घरेलू उपचार / Best and cheap home remedies for stomach pain in hindi

साधारण पेट दर्द (Stomach Pain/Ache)

व्यस्तता आजकल के समय में मानव जीवन में ऐसे फैल गई है जैसे वह जीवन का ही एक हिस्सा हो। हर व्यक्ति आजकल किसी ना किसी कार्य में व्यस्त रहता है। व्यापारी अपने व्यापार को लेकर व्यस्त हैं, कर्मचारी अपने काम को लेकर व्यस्त हैं, विद्यार्थी अपने अच्छे नंबरों के लिए अपनी पढ़ाई को लेकर व्यस्त हैं।  ऐसे में इस व्यस्तता पूर्ण जीवन में अत्यधिक समय की कमी होती है। इसलिए मनुष्य अपनी व्यस्तता के चलते अपने स्वास्थ्य के प्रति बहुत लापरवाह हो जाता है और व्यस्तता के कारण उचित समय पर भोजन और आवश्यक नींद नहीं ले पाता है। यह सब व्यस्तता या मनुष्य के स्वादप्रीय होने की वजह से वह अपने खुद के शरीर के लिए आवश्यक, विटामिन, प्रोटीन, फाइबर, मिनरल आदि युक्त भोजन का सेवन नहीं करता है और आज कल बाजारों में मिलने वाले भोज्य पदर्थ के प्रती खिंचाव या स्वाद प्रीय होता जा रहा है। जिसकी वजह से वह उपरोक्त सभी आवश्यक भोज्य पदार्थों को भूलता जा रहा है जिसकी वजह से इस प्रकार के कुछ छोटे-छोटे बदलावों से ही जीवन शैली में ऐसी छोटी - छोटी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं ऐसी कुछ समस्याओं के नाम इस प्रकार हैं बदहजमी, अरुचि, गैस, अपच, एसिडिटी के कारण सीने में जलन और सबसे बड़ी समस्या जो उपरोक्त कारणों से मानव शरीर में उत्पन्न होती है उसका नाम है पेट दर्द। पेट दर्द मानव जीवन मैं होने वाली अत्यधिक पीड़ादायक समस्या है। यह समस्या कभी भी उत्पन्न हो जाती है और कभी-कभी तो इतनी विकराल हो जाती है कि इसके उत्पन्न होने के बाद ना नींद आती है ना प्यास लगती है अर्थात किसी भी कार्य में मन नहीं लगता और ना ही कुछ कार्य करने की इच्छा होती है क्योकि पेट दर्द होता ही इतना पीड़ा दायक है की पेट दर्द से पीड़त व्यक्ती अपनी सुद - भुद खो बैठता है। यदि मनुष्य अपने जीवन शैली में महत्वपूर्ण सुधार नहीं लाता या जीवन में महत्वपूर्ण सुधार नहीं करता तो इस प्रकार की समस्या सामने आती रहेंगी और ऐसी छोटे-छोटे कारणों से आपको या आपके परिजनों को ऐसी कष्टदायक समस्याओं का सामना करना पड़ता है । परंतु यदि आप आयुर्वेदिक उपचार का सहारा लेते हैं तो आप ऐसी छोटी समस्याओं से कुछ ही पलों में आराम पाने में कामयाब हो जाएंगे।

                                   

पेट में दर्द होने के कारण

1. अपच,

2.  कब्ज,

3.  पेट का फ्लू,

4. लैक्टोज असहिष्णुता,

5.  फूड एलर्जी,

6.  पेट में गैस के कारण दर्द

 

पेट दर्द के लिए साधारण उपचार

काला नमक पिसा हुआ एक भाग और अजवाइन का चूर्ण बारीक पिसा हुआ 6 भाग

(1 : 6) की मात्रा में लेकर मिला लें इस मिश्रण में से आधा चम्मच या लगभग 2 ग्राम की मात्रा में गर्म पानी के साथ लेने से पेट के दर्द में तुरंत आराम होता है। छोटे बच्चों के लिए इस औषधि की किसी वयस्क के अनुसार आधी मात्रा का इस्तेमाल करें इस औषधि से पेट में आफरा, वायु गोला और पेट की गैस भी मिटती है। 

 

विशेष  साधारण पानी से औषधि का सेवन करने से बदहजमी, अरुचि, मन्दाग्नी मिटती है। गुनगुने पानी के साथ केवल अजवाइन का बारीक पिसा चूर्ण खाने से बदहजमी, पेट का तनाव, तिल्ली, कफ की खराबी और वायु की कई प्रकार की खराबियां दूर होती हैं। इस औषधि से पेट के कीड़े व अन्य प्रकार के छोटे बड़े क्रमी भी नष्ट हो जाते हैं। इन सब शिकायतों मैं आवश्यकता के अनुसार औषधि को 1 से 2 सप्ताह तक लें। सिर्फ अजवाइन में ही चिरायते का कटुपौष्टिक, हींग का वायु नाशक और काली मिर्च का अग्निदीपक गुण प्राकृतिक रूप से समाया हुआ है। अजवाइन सैकड़ों प्रकार के अन्न को पचाने के लिए सिद्ध औषधि है। यह पेट दर्द, अफरा, वायु गोला, वात, कफ, शूल, वमन, बवासीर व संक्रमण रोगों में यह बहुत ही लाभकारी औषधि है।

 

यदि बताए गए उपचार से दर्द में आराम ना मिल पाए तो जल्द से जल्द किसी प्रशिक्षित डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि हो सकता है की हो रहे दर्द का कारण कुछ और हो।