want to make your hair Long,Thick, Silky and Strong from roots than read this article sagarvansi ayurveda

बालों का टूटना व बालों के झड़ने से अब हमेशा के लिए छुटकारा चाहते हें। तो पढ़िए यह आर्टिकल / want to make your hair Long,Thick, Silky and Strong from roots than read this article

बालों की अनेक तरह की समस्याओं का समाधान

आजकल के समय में महिलाओं और पुरुषों के बालों का गिरना और टूटना एक आम समस्या है। बालों के गिरने और टूटने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे कि तनाव, अनियमित खानपान, विटामिन प्रोटीन की कमी, हार्मोन कि गड़बड़, प्रदूषण, केमिकल युक्त शैंपू का इस्तेमाल इत्यादि। वर्तमान समय में यह बालों की समस्या युवाओं मैं भी देखी जा रही है। जिसे अगर समय रहते ना ध्यान दिया गया तो आगे चलकर यह एक बड़ी समस्या का रूप ले सकती है। इसीलिए इन बालों की समस्या को समय रहते रोका जाना आवश्यक हो गया है। जिसके लिए आपको अपने बालों का उपचार ठीक व सही ढंग से करना चाहिए।

 असमय बाल सफेद होना

 

भृंगराज को बारीक पीसकर चूर्ण बना लें और उसमें समान मात्रा में काले तिल (साबुत) दोनों को बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें। नित्य सूर्योदय के समय मुँह शुद्धि के पश्चात इस मिश्रण को एक चम्मच की मात्रा से एक खूब चबाकर खाएं और ऊपर से ताजा पानी पी लें लगातार छह महीने के प्रयोग से समय से पहले बालों का पकना और झड़ने की शिकायत से छुटकारा मिल जाता है। साथ ही केश, काले, लम्बे, घने और चमकदार हो जाते हैं। यह परंपरागत अनुभूत प्रयोग 40 वर्ष तक की आयु वाले व्यक्तियों के लिए अधिक सफल सिध्द हुआ है।

 विशेष

* एक भृंगराज सूखा, काले तिल, सूखा आंवला, मिश्री चारों को बराबर मात्रा में लेकर महीन चूर्ण बना लें इन चारों सामग्री के मिश्रित चूर्ण मैं से आधा चम्मच की मात्रा मैं खाकर एक गिलास गुनगुना दूध पिएँ, ब्रह्मचर्य का पालन करें 1 वर्ष तक निरंतर इस चूर्ण का सेवन करें आश्चर्यचकित लाभ होगा।

* आंवला के रस से बाल धोना सर्वोत्तम है-- विधि इस प्रकार हैः- 25 ग्राम सूखे आंवले आंवला को दरदरा कूट कर (मोटा मोटा कूटकर) किए हुए टुकड़ों को 250 मिलीलीटर पानी में रात को भिगो दें। प्रातः फूले हुए आंवलों को कड़े हाथों से मसल कर सारा जल पतले स्वच्छ कपड़े से छान लें। अब इस नथरे हुए जल को केशों की जड़ों में हल्के हल्के अच्छी तरह 10 से 20 मिनट तक मसाज करें उसके बाद सादा पानी से धो डालें रूखे बालों को सप्ताह में एक बार और चिकने बालों को सप्ताह में दो बार धोना चाहिए। आवश्यकता हो तो कुछ दिन रोजाना भी धोया जा सकता है। केश धोने के 1 घंटे पहले यह जिस दिन केस धोने हैं उसके 1 दिन पहले रात में घर में बनाए हुए आंवले के तेल की मालिश केशों में करें।

आंवले का तेल बनाने की विधि:- हरे आंवले को कुचलकर या कद्दूकस करके साफ कपड़े में निचोड़कर 250 मिलीलीटर रस निकालकर किसी लोहे की कढ़ाई या मिट्टी के चिकने बर्तन में 250 मिलीलीटर काले तिल का तेल (साफ किया हुआ) या नारियल का तेल मिला लें और बर्तन को मंद मंद आंच पर रखकर गर्म होने दें। पकते-पकते जब आंवले का रस का जलीय अंश भाप बनकर उड़ जाए (अर्थात जब चटर-पटर रिया सनसनाहट की आवाज आने बंद हो जाए) और तेल-तेल बाकी रह जाए तब बर्तन को आग से नीचे उतार कर ठंडा कर लें ठंडा हो जाने पर इस तेल को साफ महीन कपड़े से या फिल्टर बैग की सहायता से छान लें। तत्पश्चात इस तेल को बोतल में भरकर दैनिक प्रयोग में लाएं। इस तेल को बालों (बाल गीले ना हो) की जड़ो में उंगलियों के पोटुओं (फिंगर टिप) से नरमी से मालिश करने से बाल लंबे और काले होते हैं।

* दही का शैंपू-- साबुन के स्थान पर सौ ग्राम दही में 1 ग्राम काली मिर्च बारीक पिसी हुई मिलाकर सप्ताह में एक बार सिर धोएँ और फिर गुनगुने पानी से अच्छी तरह बाल धो डालें। इससे बाल काले होते हैं झड़ने बंद होते हैं और बालों का सौंदर्य खिल उठता है। बालों के दो सिर हो गए हो तो बाल बढ़ाने के लिए बालों को नीचे से लगभग आधा इंच काट देना चाहिए।

* मटियाले बालों को कजरारे बनाने के लिए नींबू का शैम्पू:- यदि आपके बालों का रंग चूहे के समान मटियाला हो गया हो तो आप दो नींबू का रस निकालकर उसमें दो कप गर्म पानी डालें बालों को गीला करने के बाद इस नींबू के शैंपू को सिर में डालकर रगड़ें। तत्पश्चात पानी से सिर ना जाएं बल्कि तौलिए से बालों को सुखा डालें कुछ देर हल्की धूप में बैठकर कंघी से केश संवारे सप्ताह में दो तीन बार ऐसा करते रहने से आप के बाल स्वाभाविक रूप से काले हो जाएंगे।

सहायक उपचार 1. नींबू के छिलकों को नारियल के तेल में डुबोकर 8-10 दिन धूप में रख दें फिर इसे छानकर बालों की जड़ों में रगड़िए। केश काले और घने होंगे।

2. 300 एम०एल नारियल के तेल में 3 ग्राम काली मिर्च दरदरी (मोटी कुटी हुई) कुटी हुई डालकर गर्म कर लें जैसे ही तेल गर्म हो जाए उसे स्वच्छ कपड़े से छानकर एक बोतल में भर लें रात्रि सोने से पहले बालों की जड़ों में उंगलियों के सिरों से हल्के-हल्के मालिश करें बालों की कालिमा कायम रहेगी।

बालों में चमक और आभा उत्पन्न करने के लिए अंत में धोना:- बाल धोते समय शैंपू या साबुन से सिर साफ करने के बाद अंत में एक गिलास गुनगुने पानी (सर्दियों में) या सादे पानी (गर्मियों में) में एक नींबू का रस (अथवा सिरके की कुछ बूंदें) मिलाकर बालों पर डालकर सिर धो लें इससे केश रेशम से चमकदार सुंदर कोमल और हेयर कंडीशनर की तरह सेट हो जाते हैं। धीरे धीरे रूसी भी ठीक हो जाती है और बाल जल्दी गंदे नहीं होते। इससे थोड़ा बहुत बच गए शैंपू या साबुन के झाग भी दूर हो जाते हैं और बालों को नवीन आभा प्राप्त होती है।

बालों के सौंदर्य निखार के लिए स्वदेशी शैंपू:- मुल्तानी मिट्टी 150 ग्राम एक कटोरे में लेकर पानी में भिगो दें। जब दो-तीन घंटे मैं यह फूल कर लुगदी सी बन जाए तो हाथ से मसलकर गाढ़ा घोल बना लें। इस गाढे घोल को सूखे बालों में ही डालकर मुलायम हाथों से धीरे-धीरे रगड़े। 5 मिनट के बाद सर्दियों में गुनगुना और गर्मियों में ठंडे पानी से धो लें यदि बाल अधिक मेले हों तो यही क्रिया दोबारा करें इस प्रकार साबुन की जगह मुल्तानी मिट्टी से बाल सप्ताह में दो बार धोने से उनमें अपूर्व निखार आता है और बाल रेशम के समान मुलायम एवं लंबे होते हैं। पहली बार बाल धोने के बाद ही सिर में ऐसा हल्कापन और ठंडक का अनुभव होता है जैसे किसी अन्य केमिकल युक्त शैम्पू से नहीं होता।

बेसन का शैंपू:- साबुन के स्थान पर सप्ताह में दो बार बेसन को पानी में भली प्रकार घोलकर बालों में लगाएं और फिर 1 से 2 घंटे बाद धो लें। ऐसा करने से बाल घने और काले होंगे बालों की हर प्रकार की गंदगी साफ होकर चमकीले और मुलायम होंगे। सिर की खाज व फुंसियों भी जल्दी ठीक होंगी।