baaltod ka gharelu upchar home remedy for broken hair problem in hindi sagarvansi ayurveda

बालतोड़ की समस्या का साधारण सा घरेलू उपाय / baaltod ka gharelu upchar home remedy for broken hair problem in hindi

बालतोड़ की समस्या का घरेलू उपाय (Baltod)

बालतोड़ की समस्या यह एक ऐसी स्थिति होती है जिसमें मानव शरीर के किसी भी हिस्से में चुस्त कपड़ों की रगड़ से या कभी खुजली लगने पर ज्यादा तेज  खुजाने से या इसके अलावा त्वचा पर बालतोड़ होने के कई सारे और भी कारण हो सकते हैं। बालतोड़ एक ऐसी स्थिति या समस्या होती है जिसमें व्यक्ति की त्वचा पर उगे हुए बालों में से कोई भी बाल किसी भी कारण से अपनी जड़ से टूट जाए ऐसी स्थिति को बालतोड़ के नाम से जाना जाता है। इस स्थिति में बालतोड़ वाली जगह पर काफी सूजन एवं अत्यधिक दर्द का अनुभव होता है। बालतोड़ की समस्या किसी भी व्यक्ति को हो सकती है जिसके लक्षण कुछ इस प्रकार हैं।  इस समस्या में सबसे पहले पीड़ित व्यक्ति को पीड़ित जगह पर काफी दर्द होता है धीरे-धीरे वह जगह घाव का रूप ले लेती है और फोड़े की तरह दिखने लगती है। कुछ समय उपरांत घाव या फोड़े में पस भी दिखाई देने लगता है।  हालांकि बालतोड़ होना एक सामान्य बात है और लगभग अपने जीवन काल में बालतोड़ की समस्या से हर एक व्यक्ति कभी ना कभी ग्रसित रहा होगा बालतोड़ होने के कारण पीड़ित स्थान पर असहनीय दर्द होता है जिसकी वजह से पीड़ित को काफी बेचैनी बनी रहती है। बालतोड़ काफी सामान्य समस्या है। इस समस्या में पीड़ित को घबराने की कोई आवश्यकता नहीं होती है आज यहां हम आपको उपरोक्त चर्चित समस्या बालतोड़ की समस्या के लिए कारगर और सफल स्वदेशी घरेलू उपचार बताने वाले हैं।

                         

बालतोड़ की समस्या का घरेलू उपाय (Baltod)

उपचार      

50 ग्राम की मात्रा में नीम के पत्तों को अच्छी तरह साफ करने के बाद पत्तीयों को बारीक पीसकर उसके लेप की टिकिया जेसी बना लें और पुल्टिस के समान बालतोड पर लगाने से वह शीघ्र ही अच्छा ठीक होने लग जाता है। यदि बालतोड़ में पस पीव भी पड़ गयी हो तो नीम की पत्तियों में उतनी ही काली मिर्च पिसी हुई मिलाकर लगाएं बालतोड़  बहकर सूख जाएगा।

 

 विकल्प

* पिसी हुई मेहंदी जैसे हाथों पर लगाई जाती है वैसे ही बालतोड़ के स्थान पर गाढ़ा - गाढ़ा लेप की तरह सुबह एवं रात को लगाने से बाल तोड़ में शीघ्र ही लाभ होना शुरू हो जाता है।

* बालतोड़ के प्रारंभ में या शुरुआत में गेहूं के 15 - 20 दानों को दांत से चबाकर बालतोड़ पर लगाने से बालतोड़ ठीक हो जाता है। इस क्रिय को दिन में दो से तीन बार प्रयोग करें।

* बालतोड़ में प्याज से उपचार- प्याज में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जिसके कारण यह बालतोड़ के उपचार में काम आता है प्याज का एक स्लाइस काटकर बालतोड़ वाली जगह घाव के स्थान पर रखकर उस पर कपड़े की पट्टी बांध लें और 1 से 2 घंटे बाद इस पट्टी को हटा लें।

* बालतोड़ में हल्दी से उपचार- आयुर्वेदिक डॉक्टरों का कहना है कि बालतोड़ होने पर बालतोड़ के स्थान पर हल्दी पाउडर का लेप बनाकर बालतोड़ वाली जगह लगाने से बालतोड़ से जल्दी ही छुटकारा मिलता है हल्दी में मौजूद एंट्री इन्फ्लेमेटरी एवं नेचुरल ब्लड प्यूरीफायर के गुण समाए होते हैं जिसके कारण बालतोड़ में होने वाली सूजन और दर्द में बहुत जल्द आराम मिलता है।

  baaltod aisi samasya hoti hai jisme insaan ke body ke baal insaan ke pehne huye kapdo ki tightness ki wajah se ya kisi or kaaran se toot jata hai hai jisse us jagah par soojan ho jaati hai or kisi pimple ki tarah dikhne lagta hai or us jagah kaafi dard bhi hota hai is samasya ke liye baaltod ka gharelu upchar upar bataya gaya hai is baaltod ka gharelu upchar se aap baaltod ki samasya me aaram paa sakte hai