Natural way to remove white spot form human body sagarvansi ayurveda

शरीर पर सफेद दागों से मुक्ति / Natural way to remove white spot form human body

 मानव शरीर भगवान की एक अद्भुत रचना है। यदि शरीर पर प्रकृति के अलावा कोई निशान या दाग दिखाई देने लगे तो शरीर की काया का रूप ही भद्दा लगने लगता है।ऐसी समस्या वाले व्यक्ति जब कभी बाहर निकलते हैं जैसे दफ्तर, समाज में या घूमने फिरने वाली जगहों पर तो लोग उन्हें जगह-जगह टोकने लगते हैं, जिससे मनुष्य खुद को घृणा की नजरों से देखने लगता है और अपने आप में गिलानी महसूस करने लगता है। ऐसी ही एक समस्या का नाम है सफेद दाग शुरुआत में यह दाग छोटे-छोटे होते हैं लेकिन अगर इन पर सही समय पर ध्यान ना दिया गया जाए तो यह धीरे-धीरे बढ़ने लगते हैं और बहुत ही भद्दे लगते हैं।

सफेद दाग के कारण

1. मुख्य रूप से शरीर में जब मेलेनिन की कमी हो जाती है तो त्वचा सफेद होने लगती है जो सफेद दाग का रुप ले लेती है।

2. सदा कब्ज रहना, पेचिश, संग्रहणी, हृदय निर्बल होने पर सफेद दाग हो जाते हैं।

3. दिमाग पर अधिक दबाव पड़ने पर भी सफेद दाग हो जाते हैं।

4. जो व्यक्ति मांसाहार अधिक करते हैं उनको प्रायः यह सफेद दाग की समस्या अक्सर हो जाती है।

 सफेद दाग से बचने के उपाय

1. भोजन, साग, सब्जी, दालो और फलों आदि के सेवन करने में सभी प्रकार के नमक का त्याग करना आवश्यक है।

2. केला (हरा), करेला, लौकी, तोरई, सेम, सोयाबीन, पालक, मेथी, चौलाई, टमाटर, गाजर, परवल, मूली, शलगम, चुकंदर आदि को बिना नमक के ही प्रयोग करना चाहिए। 3. दालों में केवल चने की दाल का ही बिना नमक के प्रयोग करना चाहिए।

4. गाजर पालक मौसमी करेले का रस बिना नमक के ही पीना चाहिए।

5. चने की रोटी हमेशा बिना नमक के खाने से इस रोग में अच्छा लाभ होता है। भुने एवं उबले हुए चने बिना नमक के खाने से अच्छा लाभ होता है।

 सफेद दाग की औषधि

1. अनार के पत्तों को छाया में सुखाकर बारीक चूर्ण के समान बना लें प्रातः 10 ग्राम तथा रात को सोते समय 10 ग्राम रोजाना सादा पानी के साथ अथवा गाय के दूध के साथ सेवन करने से सफेद दाग में आश्चर्यचकित अच्छे परिणाम मिलते हैं।

2. बाबची के बीज भिगोकर नियमित रूप से प्रातः एवं रात को सेवन करने से सफेद दाग में अच्छे परिणाम मिलते हैं। इन बीजों को घिसकर सफेद दाग पर लगाने से भी बेहतर परिणाम मिलते हैं।

3. माणिक्य भस्म को आधा रत्ती प्रातः एवं साए को नियमित रूप से लेने से सफेद दागों में बेहतर परिणाम मिलते हैं।

सफेद दागों पर लगाने वाली औषधि     

बथुए का रस एक गिलास और आधा गिलास तिल के तेल को कढ़ाई में गर्म करके जब बथुए का रस जल जाए तब तेल को ठंडा कर कर शीशी में भरकर रख लेंप्रातः एवं रात मैं दागो पर लगाने से अच्छे परिणाम मिलते हैं।

विशेष सावधानियां खानपान में चीनी, गुड़, दही, अचार, डालडा, छाछ, रायता, आंवला आदि प्रयोग नहीं करना चाहिए।