Simple home remedy for all type of problems to cure teeth sagarvansi ayurveda

दांतों के इलाज के लिए सभी प्रकार की समस्याओं के लिए एक सरल घर उपाय / Simple home remedy for all type of problems to cure teeth

ईश्वर की सबसे सुंदर रचना में मानव की रचना सबसे उत्तम मानी गई है वहीं मानव रचना में सबसे अच्छी उसकी मुस्कुराहट होती है  ।
कहते हैं एक अच्छी मुस्कुराहट किसी का भी मन मोह सकती है फिर भी कुछ लोग दूसरों के सामने मुस्कुराने , बात करने मैं, व मनचाहा खाने पीने में हिचकिचाते हैं । जिसके कई कारण हैं जैसे दांतों में दर्द, मसूड़ों में सूजन, मुंह की दुर्गंध, हिलते हुए दांत, गंदे दांत (काली परत) मसूड़ों से खून आना, ठंडा या गर्म लगना, टीस मारना आदी दांतों की समस्या से पीड़ित व्यक्ति को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है कई  दफा दांतो की समस्या से ग्रसित व्यक्ति को भूखा भी रहना पड़ता है ।
ऐसे व्यक्तियों को आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खों के बारे में पता ना होने के कारण वह एलोपैथी दवाओं की ओर रुख करने लगते हैं जो कि एक तरफ तो समस्या में आराम दिलाती है वही दूसरी ओर शरीर में कहीं ना कहीं दुष्प्रभाव भी करती है । ऐसे में हम आपके लिए एक बहुत ही सरल व घरेलु उपाय बताने जा रहे हैं ।

दांतों की बीमारियों में कारगर नुस्खा

सेंधा नमक मैदे की तरह बारीक पीसकर कपड़े से छान कर रख लें । ध्यान रहे रड़के नहीं सेंधा नमक 2 ग्राम हथेली पर रखकर उसमें 4 गुना सरसों का तेल डाल दें फिर हथेली को टेढ़ी कर तेल की बूंद लगी उंगली से मसूड़ों को हल्के हल्के भली प्रकार मालिश रोजाना प्रातः करें । खून निकले तो निकलने दीजिए । कुछ देर नमकीन तेल की मसूढ़ों पर मालिश करते रहने के पश्चात तेल भीगा बचा नमक दातों-दाढों पर लेप की तरह उंगली से लगाकर थोड़ा रगड़ कर फौरन सादे या गुनगुने पानी से कुल्ले कर लें ।

उपरोक्त विधि से कुछ दिन लगातार दांत साफ करते रहने से दांतों का ठंडा गर्म और खट्टा लगना समाप्त हो जाता है । हिलते दांत सुदृढ़ हो जाते हैं । काली पपड़ी नहीं जमती । दांत साफ और मजबूत होते हैं । दांतों के कीड़े नष्ट हो जाते हैं दांत का दर्द और मसूड़ों की सूजन और टीस मिट जाती है तथा फूले मसूड़ों से खून निकलना बंद हो जाता है । निरंतर ऐसा करने से पायरिया नष्ट हो जाता है और दांतो के समस्त रोगों से बचाव हो जाता है ।

बुजुर्गों की वाणी मैं कहा गया है     

सेंधा नमक महीन में लो सरसों तेल मिलाए
दांतों की गंदगी सारी व दर्द रोग मिट जाए

इस प्रयोग के साथ-साथ चाहे तो आप सोने से पहले नरम टूथब्रश और किसी अच्छे पेस्ट से भी दांत साफ कर सकते हैं । ध्यान रहे, टूथब्रश को मसूड़ों से दातों की तरफ लाते हुए टूथब्रश करें

विकल्प

(1) एक कप पानी में आधा चम्मच सेंधा नमक मिलाकर नित्य सोने से पहले कुल्ला करने से दांतों के हर प्रकार के रोगों से बचाव होता है ।

(2) रात को नमक के पानी से गरारे करने तथा सुबह नीम की दातुन नियमित करने से दातों का कोई रोग नहीं होता ।

सहायक उपचार

(1) मल मूत्र त्यागते समय सदा ऊपर नीचे के दांतों को भीच कर रखने से दांत जीवन भर नहीं हिलते ।

(2) अधिक गर्म और ठंडे पदार्थों के सेवन से बचें । गर्म खाना खाने के ऊपर फ्रिज का ठंडा या बर्फ का पानी ना पिएं ।

(3) आधा गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़कर दिन में 2 बार 1 सप्ताह तक  पिएं ।  

(4) अगर दांतों में अचानक दर्द उठे तो अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े छिलका उतारकर पीड़ित दांतों के बीच दबाने एवं रस चूसने से कई तरह के दांतो के दर्द मिटते हैं ।

मुंह की दुर्गंध का इलाज

एक लौंग मुंह में रखकर नित्य भोजन के बाद चूसने से मुंह से बदबू आनी बंद हो जाती है व दुर्गंधमय सांस दूर होती है ।

विकल्प

यदि पाचन विकार के कारण मुख से दुर्गंध आती हो तो भोजन के पश्चात दोनों समय आधा चम्मच सौंफ चबाने से दूर होती है । यह मुख रोग और सूखी खांसी में भी लाभदायक है इस से बैठी हुई आवाज खुल जाती है और गले की खुश्की और आवाज की कर्कशता ठीक होती है ।

सहायक उपचार

एक गिलास पानी में एक नींबू का रस मिलाकर प्रातः कुल्ले करने से मुख की दुर्गंध दूर होती है । ऐसा सप्ताह - 2 सप्ताह करें ।