zeherele keede makode ke kaatne ka gharelu upchar home remedy for toxic insect bite sagarvansi ayurveda

मकोड़े व मकड़ी के काटने या विष को नष्ट करने का घरेलू उपाय / zeherele keede makode ke kaatne ka gharelu upchar home remedy for toxic insect bite

मामूली जहरीले कीड़े मकोड़े के काटने से फैले विष का घरेलू उपचार

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भारतीय संस्कृति के अनुसार श्रवण मास यानी सावन का महीना। इस महीने में बरसात अधिक होने की संभावना होती है और ऐसे समय में या कहें कि इन्हीं दिनों में तमाम प्रकार के विषैले मच्छर, पतंगा, ततैया इत्यादि की तादात अधिक बढ़ जाती है और इन तमाम प्रकार के विषैले जीव जंतुओं के अधिक होने का समय यही बरसात के दिनों में या सावन के महीने में ही होता है। इन जीव जंतुओं में से कई तो काफी जहरीले और कई कम जहरीले होते हैं। इन कई प्रकार के मच्छर, कीड़े - मकोड़े, पतंगा इत्यादि के बढ़ने की वजह से मानव जीवन में थोड़ी परेशानी उत्पन्न हो जाती है क्योंकि इन तमाम विषैले जीव जंतुओं की बढ़ती संख्या से इनके द्वारा काटने का डर भी बना रहता है। आप या आपके जानकारी में से किसी ना किसी के साथ कभी ना कभी इसी बरसाती मौसम में किसी विषैले जीव जंतु का शिकार हुए होंगे। विषैले जंतु के काटने से इनका विष मानव शरीर में प्रवेश कर जाता है और फिर उसके बाद जलन, सूजन, मवाद या खून, लाल ददोरे इत्यादि समस्या उत्पन्न हो जाती है, या कहें कि यह सभी समस्या एक साथ उत्पन्न हो जाए दरअसल यह निर्भर करता है कि पीड़ित को काटे गए जंतु ने कितना विष छोड़ा था या कहें कि वह कितना जहरीला था इन दिनों कई प्रकार के जंतुओं के साथ कई प्रकार के विषैले मच्छर भी मानव जीवन में परेशानियां उत्पन्न करते हैं। इसीलिए भारत सरकार और प्रदेश सरकार हर जगह इश्तेहार दे रही है और उनके साथ ही  हमारी भी आपसे यही सलाह है कि आसपास किसी भी बर्तन, टूटे गमले, पुराने टायर या ऐसी कोइ भी वस्तु जिसमें बरसात का पानी जमा हो सके उसे अपने निवास के आसपास एकत्रित होने दें। कूलर के पानी को हर दूसरे तीसरे दिन बदलें और घर में रखे पानी के बर्तनों को अच्छी तरह ढक कर रखें।

 

मच्छर और कीड़े मकोड़े के काटने पर उपचार

1. मच्छर के काटे हुए स्थान पर नींबू अथवा प्याज काट कर मलें या नींबू और प्याज दोनो का रस निकालकर मल लें अथवा तुलसी के पत्तों का रस लगाएं यदि जहरीला डांस डंक मारे या विषैला मच्छर काटे लहसुन की तुरी को दबाकर उस का रस मलने से अति शीघ्र लाभ मिलता है।

2. चींटी या मकोड़े के काटने पर तुरंत नमक के पानी से धो लें। मामूली जहरीले कीड़े मकोड़े अथवा मच्छर आदि के काटने पर नींबू का रस मलें अथवा स्वयं के मुंह का थूक तत्काल कटे हुए स्थान पर लगाने से तुरंत आराम मिलता है।

3. विषैले कीड़े मकोड़ों के काट लेने पर प्रभावित स्थान पर तुलसी का रस लगाने से या तुलसी के पत्ते रगड़ने से काफी लाभ मिलता है। यदि कोई पतंगा काट ले और दर्द व खुजली अधिक होने लगे तो तुरंत मिट्टी का तेल कटे हुए स्थान पर मल दें हर प्रकार के विष में कीड़ों की काटी जगह पर तत्काल स्वमूत्र कर देने से या मुत्र का की पट्टी रखने से या मूत्र का लेप करने से दर्द व सूजन भी अतिशीघ्र समाप्त हो जाती है। इसके अतिरिक्त कटे-फटे अंग,घाव तथा दाद पर स्वमूत्र करने से या स्वमूत्र से भीगा हुआ फाहा रखने से वह ठीक हो जाते हैं।

 

मकड़ी का विष शरीर पर यदि कहीं मकड़ी मसल जाए और छाले और जलन हो जाएं तो वहां पर थोड़ी अमचूर को पानी के साथ सिल पर बारीक पीसकर गाड़ा लेप लगाने से काफी आराम मिलता है। इस लेप को बिना देर किए लगाने से मकड़ी का विष नष्ट हो जाता है। प्रायः दिन में दो से तीन बार लेप करने से जलन दूर होकर आराम मिलता है।

विशेष

1. अमचूर में नमक आदि नहीं मिला होना चाहिए।

2.  शरीर के जिस भाग पर मकड़ी रगड़ गई हो उसके चारों तरफ शुद्ध देसी घी लगा देना चाहिए जिससे आगे विष ना फैले।

3. मकड़ी के शरीर पर फिर जाने से य इसकी रगड़ मात्र से ही असहनीय जलन और खुजली वाली अनेक ददोरे या फुंसियां पैदा हो जाती हैं और पीड़ित स्थान लाल होकर सूज जाती है।

4. हर्पीस जोस्टर नामक रोग में समस्या से मिलते-जुलते भयंकर जलन या पीड़ा युक्त लक्षण दिखाई देते हैं। इस पर अमचूर का लेप करने से जलन शांत होकर लाभ मिलता है।

 

नोट :- उपरोक्त घरेलू उपचार से यदि लाभ ना मिले तो जल्द से जल्द किसी प्रशिक्षित डॉक्टर की सलाह अवश्य लें क्योंकि हो सकता है की आप जिसे छोटा या मामूली जंतु समझ रहे हो वह कोई अत्यंत विषैला जीव हो।

puri duniya me anek prakaar ke jeev jantu keede makode rehte hai jisme se kai to kaafi jyada jehrele hote hai or kai thode kam zehrele hote hain aise he kai saare aise bhi hote hai jinse insaan ka har roj paala padta hai aise kuch keede makode bhi kaafi zehrele hote hai inse insaan ko thodi to takleef hoti hai aide he thodi takleef ko kam karne ke liye zeherele keede makode ke kaatne ka gharelu upchar upar bataya hai is zeherele keede makode ke kaatne ka gharelu upchar se aap apni samasya me aaram paa sakte hai